स्वामी विवेकानंद के सर्वश्रेष्ठ प्रेरणादायक विचार

स्वामी विवेकानंद के सर्वश्रेष्ठ प्रेरणादायक विचार

उठो! जागो और आगे बढ़ो तब तक न रुको जब तक लक्ष्य को प्राप्त न कर लो

– स्वामी विवेकानंद

अगर धन दूसरों की भलाई करने में मदद करे, तो इसका कुछ मूल्य है, अन्यथा, ये सिर्फ बुराई का एक ढेर है,

और इससे जितना जल्दी छुटकारा मिल जाये उतना बेहतर है

– स्वामी विवेकानंद

किसी दिन, जब आपके सामने कोई समस्या ना आये –

आप सुनिश्चित हो सकते हैं कि आप ग़लत मार्ग पर चल रहे हैं.

– स्वामी विवेकानंद

जीवन में जोखिम लेना सीखे, अगर आप जीते तो आप और आगे बढ़ेंगे,

अगर हारे तो दुसरो को आगे बढ़ाने में सहायक बनेंगे

– स्वामी विवेकानंद

जितना बड़ा संघर्ष होगा, जीत उतनी ही शानदार होगी

– स्वामी विवेकानंद

खुद पर अटूट विशवास विश्व तक को हमारे चरणों में लाने की ताकत रखती हैं

– स्वामी विवेकानंद

जब तक जीना तब तक सीखना, अनुभव ही जीवन में सर्वश्रेष्ठ शिक्षक है

– स्वामी विवेकानंद

आप जब तक ईश्वर पर विश्वास नहीं करेंगे तब तक आप स्वयं पर विश्वास रखना नहीं सीख पाएंगे

– स्वामी विवेकानंद

सत्य अगर सौ अलग अलग प्रकार, से कितना भी घुमा फिरा कर कहाँ जाये तो भी वह रहता सत्य ही हैं

– स्वामी विवेकानंद

सच्ची सफलता और आनंद का सबसे बड़ा रहस्य यह है-

वह पुरुष या स्त्री जो बदले में कुछ नहीं मांगता।

पूर्ण रूप से निःस्वार्थ व्यक्ति, सबसे सफल हैं।

– स्वामी विवेकानंद

क्या तुम नहीं अनुभव करते कि दूसरों के ऊपर निर्भर रहना बुद्धिमानी नहीं हैं।

बुद्धिमान् व्यक्ति को अपने ही पैरों पर दृढता पूर्वक खड़ा होकर कार्य करना चहिए।

धीरे धीरे सब कुछ ठीक हो जाएगा।

– स्वामी विवेकानंद

हम जो बोते हैं वो काटते हैं। हम स्वयं अपने भाग्य के निर्माता हैं।

– स्वामी विवेकानंद

यदि स्वयं में विश्वास करना और अधिक विस्तार से पढ़ाया और अभ्यास कराया गया होता, तो मुझे यकीन है

कि बुराइयों और दुःख का एक बहुत बड़ा हिस्सा गायब हो गया होता।

– स्वामी विवेकानंद

किसी की निंदा ना करें। अगर आप मदद के लिए हाथ बढ़ा सकते हैं,

तो ज़रुर बढाएं। अगर नहीं बढ़ा सकते, तो अपने हाथ जोड़िये,

अपने भाइयों को आशीर्वाद दीजिये, और उन्हें उनके मार्ग पे जाने दीजिये।

– स्वामी विवेकानंद

Share this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *