Famous Hindi Quotes by Preamchand

Famous Hindi Quotes by Preamchand

महान व्यक्ति महत्वाकांक्षा के प्रेम से बहुत अधिक आकर्षित होते हैं।
-प्रेमचन्द

 

चापलूसी का ज़हरीला प्याला आपको तब तक नुकसान नहीं पहुँचा सकता जब तक कि आपके कान उसे अमृत समझ कर पी न जाएँ।

-प्रेमचन्द

अतीत चाहे जैसा हो, उसकी स्मृतियाँ प्रायः सुखद होती हैं।
-प्रेमचन्द

मन एक भीरु शत्रु है जो सदैव पीठ के पीछे से वार करता है।

-प्रेमचन्द

अनुराग, यौवन, रूप या धन से उत्पन्न नहीं होता। अनुराग, अनुराग से उत्पन्न होता है।

-प्रेमचन्द

 

अनुराग, यौवन, रूप या धन से उत्पन्न नहीं होता। अनुराग, अनुराग से उत्पन्न होता है। -प्रेमचन्द

दुखियारों को हमदर्दी के आँसू भी कम प्यारे नहीं होते।

-प्रेमचन्द

विजयी व्यक्ति स्वभाव से, बहिर्मुखी होता है। पराजय व्यक्ति को अन्तर्मुखी बनाती है।

चापलूसी का ज़हरीला प्याला आपको तब तक नुकसान नहीं पहुँचा सकता जब तक कि आपके कान उसे अमृत समझ कर पी न जाएँ।

-प्रेमचन्द

महान व्यक्ति महत्वाकांक्षा के प्रेम से बहुत अधिक आकर्षित होते हैं।

-प्रेमचन्द

\

आकाश में उड़ने वाले पंछी को भी अपने घर की याद आती है।

-प्रेमचन्द

जिस प्रकार नेत्रहीन के लिए दर्पण बेकार है उसी प्रकार बुद्धिहीन के लिए विद्या बेकार है।

-प्रेमचन्द

न्याय और नीति लक्ष्मी के खिलौने हैं, वह जैसे चाहती है नचाती है।

-प्रेमचन्द

न्याय और नीति लक्ष्मी के खिलौने हैं, वह जैसे चाहती है नचाती है।

-प्रेमचन्द

अपनी भूल अपने ही हाथों से सुधर जाए तो यह उससे कहीं अच्छा है की कोई दूसरा उसे सुधारे।

-प्रेमचन्द

देश का उद्धार विलासियों द्वारा नहीं हो सकता। उसके लिए सच्चा त्यागी होना आवश्यक है।

-प्रेमचन्द

मासिक वेतन पूरनमासी का चाँद है जो एक दिन दिखाई देता है और घटते घटते लुप्त हो जाता है।

-प्रेमचन्द

क्रोध में मनुष्य अपने मन की बात नहीं कहता, वह केवल दूसरों का दिल दुखाना चाहता है।

-प्रेमचन्द

Share this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *