ज़िम्मेदारियाँ भी एक इम्तेहान होती है..जो निभाता है न उसी को परेशान करती हैं…