स्वास्थ सबसे बड़ा उपहार है, संतोष सबसे बड़ा धन है, यह दोनों योग से ही मिलते हैं!