माँ-बाप के संस्कारों का इतना सा ही प्रमाण है, चरित्र रहे पवित्र और हर शख़्स कहे, ये एक नेक इंसान है।

माँ-बाप के संस्कारों का इतना सा ही प्रमाण है, चरित्र रहे पवित्र और हर शख़्स कहे, ये एक नेक इंसान है।