भी दिनों में सबसे अधिक बर्बाद किया गया दिन वो है, जिस दिन आप न हँसे हों।