ज्यों ज्यों उम्र बूढ़ी होती जाती है, त्यों त्यों अनुभव जवाँ होता जाता है।