कुछ रिश्ते, रिश्तों से बढ़कर होते हैं इसलिए ऐसे रिश्तों को परिभाषित करना संभव नहीं होता है!